Sign In

भोले दी बरात चली | Bhole Di Baraat | Free PDF Download

भोले दी बरात चली | Bhole Di Baraat | Free PDF Download

Reading Time: < 1 minute

भोले दी बरात चली,
भोले दी बरात चली,
गज वाज के,
सारीया ने भंग पीती राज राज के

हो सारीया ने सारीया ने
सारीया ने सारीया ने
सारीया ने भगत प्यारिया ने

ब्रह्मा विष्णु ख़ुशी मांदे,
देवी देव जय कारे लौंदे,
बन के बाराती आये सज धज के,
सारीया ने भंग पीती राज राज के…
भोले दी बरात चली गज वाज के…

भोले वखरा रूप बनया,
गौर मैया नाल बयाह रचाया,
देखनु ने आये सारी भज भज के,
सारीया ने भंग पीती राज राज के…
भोले दी बरात चली गज वाज के…

राजू वीर हरिपुरिये गाणी,
महिमा शिव दी कही ना शिवानी,
साज भी ना थके बज बज के,
सारीया ने भंग पीती राज राज के…
भोले दी बरात चली गज वाज के…