Sign In

घोड़े की नाल के चमत्कारी प्रभाव : किस प्रकार बनाता है रंक से राजा (Ghode Ki Naal Ke Chamatkari Prabhav: Kis Prakar Banata Hai Rank Se Raja)

घोड़े की नाल के चमत्कारी प्रभाव : किस प्रकार बनाता है रंक से राजा (Ghode Ki Naal Ke Chamatkari Prabhav: Kis Prakar Banata Hai Rank Se Raja)

Reading Time: 3 minutes
Article Rating
3.8/5

घर के मुख्य द्वार यानी की प्रवेश द्वार पर या लिविंग रूम के प्रवेश द्वार पर बाहर की ओर मुख करके घोड़े की नाल (ghode ki naal) को लगाया जाता है। यह भी कहा जाता है कि घोड़े के नाल की अंगूठी (ghode ki naal ki ring) को मध्यमा ऊँगली में धारण करने से प्रत्यके कार्य में सफलता मिलती है तथा शनि देव का आशीर्वाद भी प्राप्त होता है। 

घोड़े की नाल क्या है और इतना जरूरी क्यों है?

घोड़े की नाल का ज्योतिष में अपना एक अलग महत्त्व है। घोड़े के पैरों के निचे यानि की तलवे में लोहे से बना एक “यू शेप” का सोल ठोंका जाता है जिससे घोड़े को चलते और दौड़ते समय में दिक्कत नहीं आती है। अंग्रेजी अल्फाबेट्स के “यू” आकृति के जैसे इस सोल में जहां-जहां पर भी सोल को ठोका जाता है वहां-वहां पर छेद हो जाता है। लोहे से निर्मित इस विशेष प्रकार के सोल को “नाल” कहा जाता है। 

हालांकि, बाजार में आज के समय में “घोड़े की नाल” के नाम पर सिर्फ लोहे का नाल ही मिलता है जिसे किसी भी घोड़े द्वारा इस्तेमाल नहीं किया गया होता है। पुराने वक्त में जिस भी घोड़े की नाल खराब या बेकार हो जाती थी, उस नाल को ही उपयोग में लाया जाता है। घोड़े की नाल इतना जरूरी क्यों है आइये जानते है उन्हीं विशेष कारणों के बारे में विस्तार से :

घोड़े की नाल से जुड़ें जरुरी तथ्य :

ज्योतिष तथा वास्तु शास्त्र :

  • ईएस्ट्रोहेल्प के वास्तु शास्त्री मानते हैं कि अगर घर का मुख्य द्वार या दरवाजा पश्चिम, उत्तर, या उत्तर-पश्चिम  में हो, तो उसके ऊपर बाहर की ओर घोड़े की नाल को लगा देना चाहिए। घर के मुख्यद्वार या दरवाजे पर काले रंग के घोड़े की नाल लगा देने से घर पर किसी की भी बुरी नजर नहीं लगती और घर की बरकत भी बनी रहती है।
  • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, काले रंग के घोड़े के पैरों पर शनि ग्रह का विशेष रुप से प्रभाव पड़ता है। घोड़े का यह नाल लोहे का बना होता है, लोहा को शनि ग्रह का धातु माना जाता है और रंगों में काला रंग भगवान शनि का प्रिय रंग है। पुराने घोड़े की नाल के होने से शनि ग्रहका प्रकोप भी समाप्त हो जाता है।
  • पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, काले रंग के घोड़े की नाल को यदि आप काले रंग के कपड़े में लपेटकर अनाज के बिच में रख देते हैं तो कभी भी अनाज की कमी नहीं होती है। इसका अर्थ यह है की घर की बरकत बनी रहती है।
  • ऐसा भी कहा जाता है कि काले रंग के घोड़े की नाल को किसी काले कपड़े में बांधकर यदि आप अपने तिजोरी में रख देते हैं तो धन में वृद्धि होती रहती है।
  • पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, घोड़े की नाल को घर में लाकर रखने से जादू, टोने, नकारात्मक ऊर्जा या फिर बुरी नजर से मुक्ति मिल जाती है।
  • ऐसा कहा जाता है कि अगर किसी को भी दौड़ते हुए घोड़े के पाँव से छिटक कर निकली हुई नाल मिल जाए और उस नाल को वो व्यक्ति अपने घर में लाकर उचित स्थान पर लगा दे तो उसके दुर्भाग्य समाप्त हो जाता है और उसके जीवन में खुशियों का आगमन होता है।
  • कोई भी व्यक्ति अपने दुकान के बाहर में काले रंग के घोड़े की नाल को टांग देता है तो इससे दूकान में होनेवाली बिक्री में बढ़त होती है।

क्या घर के मुख्य द्वार के ऊपर घोड़े की नाल लगाना अच्छा है? 

कुछ विद्वानों की मानें तो घर के द्वार पर घोड़े की नाल टांगना अच्छा नहीं है। क्योंकि घर द्वार के ऊपर या तो प्रभु श्री गणेश जी की मूर्ति या  उनका चित्र ही स्थापित किया जाता है या फिर कोई मंगल प्रतीक यानि की चिन्ह लगाया जाता है। इसलिए अगर आप घोड़े की नाल को घर के मुख्य द्वार पर लगाने का सोच रहे हैं तो किसी भी विद्वान या विशेषज्ञ से पूछकर ही ऐसा करें।

पौराणिक कथा के अनुसार घर के मुख्य द्वार के महत्व को इस प्रकार समझें। एक बार हनुमान जी जब लंका दहन करने में लगे थे तब श्री राम भक्त हनुमान जी ने लंकापति रावण के भाई विभीषण के घर के मुख्य द्वार पर भगवान विष्णु तथा श्री राम के मंगल चिन्ह देखकर उनके घर को छोड़ दिया था।

Frequently Asked Questions

1. क्या अपने दूकान पर घोड़े की नाल लगा सकते हैं ?

जी हाँ आप अपने दूकान पर घोड़े की नाल लगा सकते हैं ।

2. क्या जादू टोन से बचने के लिए भी घोड़े के नाल का इस्तेमाल किया जाता है ?

जी हाँ, जादू टोन से बचने के लिए भी घोड़े के नाल का इस्तेमाल किया जाता है।

3. घर में धन की बढ़ोतरी के लिए घोड़े के नाल का इस्तेमाल कैसे करें ?

काले रंग के घोड़े की नाल को किसी काले कपड़े में बांधकर यदि आप अपने तिजोरी में रख देते हैं तो धन में वृद्धि होती रहती है।

4.ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, काले रंग के घोड़े के पैरों पर किस ग्रह का विशेष रुप से प्रभाव पड़ता है ?

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, काले रंग के घोड़े के पैरों पर शनि ग्रह का विशेष रुप से प्रभाव पड़ता है।